मंगलवार, 26 अप्रैल 2016

महामहिम उप राष्ट्रपति डॉ हामिद अंसारी द्वारा लोकार्पित हुईं मेरी पुस्तकें

     स्नेहिल मित्रों ! पाठकों शुभचिंतकों मेरे प्रिय परिजन व सगे संबंधियों आप सबके स्नेह आशीष का ह्रदय से कृतज्ञता पूर्ण आभार व्यक्त करता हूँ मैं इस योग्य नहीं की आपके अनमोल प्यार का मूल्य चूका सकूँ . मैं निशब्द हूँ आपकी संवेदना विभूति को संजोकर .
       आज 26-04-2016 मेरी नवल कृतियां " निर्वाण " व् "तनया " का लोकार्पण महामहिम डॉ हामिद अंसारी उप- राष्ट्रपति भारतीय गण के हाथों राज्यसभा में सम्पन्न हुआ .
पुस्तक तनया 260 मुक्तकों से बेटियों के छुए -अनछुए पहलुओं को निरुपित करने का प्रयास है सुधि प्रकाशक यश पब्लिकेशन दिल्ली ने इसे प्रकाशित किया है ,
' निर्वाण ' कहानी संग्रह मेरी अमूल्य कृतियों में है . कितना सफल हुआ हूँ यह आप सब पर छोड़ता हूँ , यह ख्यातिलब्ध प्रकाशक विश्व हिंदी साहित्य परिषद द्वारा प्रकशित यह कृति आपकी सेवा में है . प्रकाशक आशीष कंधवे जी का ह्रदय से आभार .आप मानबिन्दुओं सुभेक्षुओं का पुन आभार .
उदय वीर सिंह

2 टिप्‍पणियां:

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल बुधवार (27-04-2016) को "हम किसी से कम नहीं" (चर्चा अंक-2325) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
--
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Dilbag Virk ने कहा…

आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 28-04-2016 को चर्चा मंच पर चर्चा - 2326 में दिया जाएगा
धन्यवाद